गमले में नीबू || How to Grow Lemon in Pot

 How to Grow Lemon in Pot || नीबू को गमले में उगाने के सीक्रेट Tip



मस्कार दोस्तो

मुझे उम्मीद है आप सभी काफी बेहतर होंगे और अपनी बागवानी में खुश भी होंगे ।दोस्तो  बागवानी एक ऐसा शौक है जो हमारे मन को तो खुशी देता ही देता है।साथ में हमें कुछ नया करने को प्रेरित भी करता है।फल खाना सभी को बहुत अच्छा लगता है। बागवानी करने वाले सभी दोस्त चाहते है कि उनके बगीचे में भी कुछ फलदार पौधें हों।दोस्तो आजकल फलदार पौधों की कुछ ऐसी वैरायटी आ गयी है।जो बहुत ही जल्दी फल दे देती है।जरूरी नही कि आप उन्हैं जमीन पर  ही लगायें ।आप उन्है गमले में लगाकर भी फल खा सकते है।उन्ही फलों में एक फल है नीबू ।जी दोस्तों नीबू सबसे ज्यादा प्रयोग किया जाने वाला फल है जो हम सभी खाने- पीने में प्रयोग करते है।इसे गमले में बड़ी आसानी से उगा सकते है।नीबू वर्षभर फल देता है।और इसके फल बहुउपयोगी भी होते है।आज हम इस लेख में आपको गमले में नीबू उगाने की जानकारी देगें ।

नीबू के लिये गमले का चयन

×××××××××××××××××××
नीबू को गमले में उगाने के लिये के आप मिट्टी /सीमेन्ट का 16" या उससे बड़ा गमला लें आप जितना बड़ा गमला लेंगे उतना ही अधिक फायदेमंद रहेंगे। 16 इंच से छोटा गमला ना लें ।गमला मजबूत होना चाहिए साथ ही साथ गमले को जहां भी रखें वहां की सतह समतल भी होनी चाहिए।

नीबूं की प्रजाती।

××××××××××
कागजी नीबू सबसे ज्यादा लोकप्रिय है लेकिन गमले में नींबू उगाने के लिए आप हमेशा ग्राफ्टेड यानी के गूटी वाला नींबू का पौधा ही प्रयोग में लें ।क्योंकि Graft नींबू के पौधे पर 1 वर्ष में फल आने लगते हैं और पहले ही साल आपको खट्टे नींबू खाने को मिल जाएंगे। नींबू की देशी प्रजाति 3 से 4 वर्ष बाद फल दे पाती है ।तो उस प्रजाति को आप जमीन पर लगाने की कोशिश करें। गमले के लिए आप सीडलेस नींबू भी लगा सकते हैं।
▪देशी नीबू (कागजी नीबू)- 5 वर्ष बाद फल उत्पादन
▪Graft नीबू -1 से 2 वर्ष में फल उत्पादन
▪ सीडलेस नीबू- 2वर्ष में फल उत्पादन
नींबू की अनेक प्रजातियां आती हैं उनमें चाइना नीबू ,पाकिस्तानी नींबू, कुम्भकाठ नीबू जैसी अनेक वैरायटी खाफी प्रसिद्ध हैं।
गमले के लिये आप छोटे साइज का चाइना नीबू भी लगा सकते है।यह देखने में काफी सुन्दर होता है।



आप हमारे video देखकरभी और जानकारी पा सकते है








नीबू के लिये मिट्टी।

××××××××××××
नीबू वर्ष में दो बार फल देता है।नीबू को बलुई दोमट मिट्टी काफी पसंद है। नींबू के लिये मिट्टी में पानी नहीं रुकना चाहिए ।साथ ही साथ मिट्टी में उर्वरा शक्ति भी अच्छी होनी चाहिए । पथरीली जगह पर भी नींबू आसानी से उगाया जा सकता है। नींबू को चिकनी मिट्टी में भी उगाना सरल है। लेकिन ज्यादा पानी नीबू के लिये नुकसानदेय है ।
गमले में नीबू के लिये मिट्टी तैयार करना।
×××××××××××××××××××××××××
अगर आप गमले में नीबू उगाना चाहते है तो आपको उसके लिये अच्छी मिट्टी तैयार करनी होगी।सबसे पहले आप अपने गमले में नीचे की तरफ पानी निकलने के लिये एक छेद बनायें ।
▪साधारण मिट्टी-60%
▪गोबर / Compost खाद -20%
▪बालू मिट्टी -15%
▪नीम खली खाद 5%
पौधा लगाने से एक सप्ताह पहले उपरोक्त सभी मिट्टी और खाद को अच्छी तरह मिलाकर अपने गमले में भर लें। और इस गमले को खुले मौसम में ही रखें। खुले मौसम में रखने से मिट्टी में सूरज की धूप और हवा सही तरीके से जा सकेगी। एक सप्ताह बाद आप ईस गमले में नीबू का पौधा लगा सकते है।


आप हमारे video देखकरभी और जानकारी पा सकते है 

नींबू लगाने का सही मौसम

×××××××××××××××××
उत्तर भारत में नींबू लगाने के लिए जुलाई से सितंबर का मौसम सर्वोत्तम होता है ।इसके अलावा फरवरी से लेकर अप्रैल तक आप नींबू लगा सकते हैं। नींबू लगाते समय गर्म  मौसम का विशेष ध्यान रखिए गर्म मौसम ज्यादा होने पर आप नींबू ना लगाएं।
पौधा लगाने के बाद क्या करें ( पहले माह )
×××××××××××××××××××××××××××
नींबू लगाने के 20 दिन तक आपको इस गमले में कोई भी खाद नहीं देना । आप दूसरे तीसरे दिन  थोड़ा -थोड़ा पानी दे सकते हैं ।ध्यान रखिए पानी इतना ज्यादा ना दें कि गमले में पानी भर जाए ।गमले में पानी ठहरना नहीं चाहिए ।नींबू का पौधा लगाने के 40 दिन बाद आप हल्की गोबर खाद अपने पौधे में लगा सकते।

पौधा लगाने के 50 दिन बाद

++++++++++++++++++
अब आप अपने गमले की मिट्टी की हल्की गुड़ाई करें और एक दो दिन की धूप लगने दें(ध्यान रखे पौधा सूख ना जाये)।उसके बाद गमलें में दीमक रोधी दवा (फोरेटया नीमखली) जरूर लगायें।साथ में 30 gram Compost khad भी लगा दें।यह प्रक्रिया आप हर तीन महीने में एक बार करते रहैं।

फूल आने पर देखरेख

××××××××××××××
नींबू का पौधा लगाने के 1 से डेढ़ वर्ष बाद आपके पौधे पर फूल आना शुरू हो जाएंगे ।फूल आने पर आपको कुछ सावधानियां रखनी है ।उनमें से हम कुछ सावधानियां आपको बता रहे हैं ।
▪फूल आने पर नीबू में पानी देने की मात्रा कम कर देनी है ।कोशिश करें पानी ना दें या बहुत कम पानी दें। पानी हमेशा शाम के समय देने की कोशिश करें ।
▪नीबू के पौधे में हर सप्ताह थोड़ी-थोड़ी गोबर खाद या वर्मी कंपोस्ट लगाते रहें।
▪ कोई भी बीमारी दिखने पर आप कोई भी साधारण जैविक कीटनाशक का छिड़काव कर दें।
▪नींबू पर सबसे ज्यादा फूल और फल लाने की समस्या रहती है ।आपके गमले में अगर फल नहीं आ रहे हैं तो इसका कारण खाद की कमी और पौधे में अधिक पानी देना होता है। तो ध्यान रखें कि आपअपने नीबू के  गमले में समय-समय पर खाद लगाते रहे साथ ही साथ गुड़ाई भी करते रहें ।और पानी की मात्रा फूल आने पर सीमित कर दें।


आप हमारे video देखकरभी और जानकारी पा सकते है 




हमें उम्मीद है हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और अगर आपको यह पसंद आई है तो हमें ज्यादा से ज्यादा लाइक और शेयर करें आपके विचारों का स्वागत है।
By Ravindra pratap ( Home garden )
गमले में नीबू || How to Grow Lemon in Pot   गमले में नीबू || How to Grow Lemon in Pot Reviewed by homegardennet.com on सितंबर 23, 2017 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

thanks for your comment

Blogger द्वारा संचालित.