शमी के पौधे को लगाने की सावधानियां

                  शमी को लगाने में सावधानियां


नमस्कार दोस्तों

आपका फिर से स्वागत है हमारे गार्डनिंग ब्लाग में दोस्तों आज हम जिस पौधे की बात करने वाले हैं वह पौधा काफी फेमस है। पौधे सभी उपयोगी होते हैं और हमारे सामाजिक और सांस्कृतिक जीवन को भी प्रभावित करते हैं कुछ पौधे धार्मिक रूप से भी काफी महत्व रखते हैं उन्हीं पौधों में से एक पौधा है शमी का पौधा जी हां दोस्तों शमी का वृक्ष बहुत ही पवित्र माना जाता है। भगवान शनिदेव और भगवान गजानन को यह काफी प्रिय है आपके ऊपर शनि की महादशा चल रही हो साढ़ेसाती साथी या कोई भी ग्रह दोष आपके ऊपर प्रभावी हो गया हो उस समय शनिदेव की पूजा करने के लिए शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए शमी से बढ़कर कोई भी पौधा नहीं हो सकता शमी का पूजन शनिदेव को प्रसन्न करता है तो आज हम इस लेख में आपको बताएंगे कि आप समी के पौधे को अपने घर में किस प्रकार लगाएं यह आपके लिए ज्यादा से ज्यादा गुणकारी हो लाभकारी हो

■ शमी के पौधे को लगाने की दिशा

दोस्तों शमी का वृक्ष आप अपने बगीचे में लगा सकते हैं गमले में लगा सकते हैं इसे सदैव आप अपने घर से निकलते समय ऐसी दिशा में लगाएं क्या आप जब भी घर से बाहर निकले तो यह आपके दाहिने हाथ की तरफ पड़े ।अगर आपके घर में नीचे जगह नहीं है तो आप अपने छत पर भी यह पौधा लगा सकते हैं।छत पर इस पौधे को आप दक्षिण दिशा में रखने की कोशिश करें दक्षिण दिशा में अगर रोशनी नहीं आ पा रही है तब आप इसे पूर्व दिशा या ईशान कोण में भी लगा सकते हैं शमी के पवित्र पौधे को लगाने में सावधानियां मित्रों जैसा कि मैंने आपको बताया धार्मिक रूप से यह काफी पवित्र पौधा है तो हम इसे लगाने के लिए कुछ सावधानी आपको बताएंगे सबसे पहली सावधानी है


■ सावधानियां 

दोस्तो आप इसे पवित्र गमले में या साफ जगह में लगाएं इस पौधे के आसपास आप की नाली का पानी या फिर कूड़ा वगैरा देने की जगह नहीं होनी चाहिए इसका गमला इसे ऐसी जगह रखें जहां पर कोई व्यक्ति गलत चीज ना थूके इसके अलावा शमी के पवित्र पौधे को लगाने के लिए जो भी मिट्टी आप प्रयोग में लाएं उसे साफ जगह से जाइएगा नाली आज की मिट्टी प्रयोग ना करें गमले में गोबर खाद या फिर कंपोस्ट ही लगाएं 1 मील या फिर केमिकल फर्टिलाइजर का प्रयोग ना करें शमी के पवित्र पौधे की देख रेख दोस्तों आपने शमी का पौधा लगाया हुआ है शमी के पौधे को लगाने के साथ-साथ इसकी देखरेख भी काफी जरूरी है इस पौधे को ज्यादा पानी की जरूरत नहीं होती लेकिन धूप बहुत चाहिए तो आप कोशिश करें कैसे फुल सनलाइट में ही रखें साथ ही साथ ज्यादा पानी ना दें

■ शमी पौधे का महत्व ( लाभ )




अगर आप दुश्मनों से परेशान हैं आपके दुश्मन आपको परेशान किए हुए हैं बिना किसी कारण के आप को लोग कष्ट दे रहे हैं आपकी नौकरी जाने का खतरा बन गया है या फिर कुछ भी ऐसी स्थिति जिसमें आपका मान-सम्मान प्रभावित हो रहा है आप कहिए में फंसते जा रहे हैं या फिर आपका व्यापार नहीं चल रहा है इस स्थिति से निकलने के लिए आप 12 शनिवार शमी वृक्ष का विशेष पूजन करें पूजन के लिए आप शनिवार की शाम को सरसों के तेल का दीपक काले तिल डालकर जलाएं साथ ही साथ 10 बार दशरथ कृत शनि स्रोत का पाठ जरूर करें यह कार्य आप लगातार 12 सलवार कीजिए या फिर आप अपनेप्रतिदिनके पूजन में इसे शामिल कर सकते हैं । प्रतिदिन अगर आप उस शमी वृक्ष का पूजन कर रहे हैं तो फिर दशरथ कृत शनि स्त्रोत का केवल एक बार पाठ करें। आप देखेंगे कि आपके जीवन की जो समस्याएं थी उनमें सुधार होना शुरू हो जाएगा ।


दोस्तों आध्यात्मिक जो भी क्रियाकलाप हैं उनमें विश्वास और श्रद्धा महत्वपूर्ण स्थान रखती है अगर आप में विश्वास नहीं है श्रद्धा नहीं है तो आपका कोई भी काम सफल नहीं होगा ।मेरा मानना है कि अगर आप सभी कार्य करके असफल हो चुके हैं और आपको अभी तक सफलता नहीं मिल रही है तो इस कार्य को भी आपको करके देख लेना चाहिए मैं विश्वास दिलाता हूं कि शमी वृक्ष के पूजन से आपके यहां की जो समस्याएं हैं ।उनसे आपको निजात मिल जाएगी तो मुझे उम्मीद है कि शमी वृक्ष के बारे में आपने जो यह लेख पढ़ा यह आपके लिए उपयोगी रहा होगा। आप हमें अपने विचारों से कमेंट के रूप में अवगत करा सकते हैं फिर भी कोई समस्या है तो आप कमेंट कीजिए हम आपका जवाब देने की कोशिश करेंगे

शमी के पौधे को लगाने की सावधानियां शमी के पौधे को लगाने की सावधानियां Reviewed by homegardennet.com on सितंबर 14, 2017 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

thanks for your comment

Blogger द्वारा संचालित.