गमले में मिर्च उगाने की पूरी जानकारी

आज हम आपको बताने वाले हैं घर पर गमले में अच्छी मिर्च कैसे उगा सकते हैं कई बार तो आपने अपने बगीचे (Garden) में मिर्च उगाने की कोशिश की होगी लेकिन जिस तरह से हम उगाना चाहते हैं उस तरीके से नही उग पाती हैं साथ ही ताजी,fresh सब्जियां खाने का स्वाद ही अलग है मिर्च एक पोपूलर सब्जी है मिर्च हर तरह की सब्जियों में प्रयोग की जाती है। खाने के साथ मिर्च का प्रयोग चटनी,सलाद के रूप में किया जाता है।


                मिर्च उगाने का सही समय 
मिर्च एक ऐसी सब्जी है। जिसे वर्षभर उगाया जाता है। मई-जून की तेज गर्मी छोडकर ये अच्छी उपज देती है।
बरसात और सर्दी -  जुलाई-सितम्बर 
गर्मियो के मौसम में - फरवरी के महीने से लेकर मार्च के महीने तक लगानी चाहिये।


सर्दियो के समय मिर्च के बीज लगाने का सही समय 
मई के अंतिम सप्ताह से लेकर जून के अंतिम सप्ताह तक मिर्च के बीजों को लगा देना चाहिये। उसके बाद मिर्च के बीज से 15-20 दिनों में अच्छे पौधे तैयार हो जायेंगे
जब मिर्च के पौधे 4-5 पत्तियों के पौधे हो जायें तब आप मिर्च के पौधो को गमले,Grow bag या जमीन में लगा सकते हैं।
 
आप और अधिक जानकारी हमारी वीडियों देख खर पा सकते हैं


          गर्मियो के मौसम बीज लगाने के समय
गर्मियो को मौसम में मिर्च को बीज से उगाने के लिए सही समय फरवरी से लेकर मार्च तक का होता है। बीजों का अंकुरण सही होने लिए अनुकूल तापमान की आवश्यकता होती है।

             मिर्च का अच्छी क्वालिटी का बीज 
वैसे तो बाजार अनेक किस्म के बीज बाजार में मिल जायेंगे कुछ लम्बी किस्म की मिर्च,पीली मिर्च,शिमला मिर्च आदि जैसे किस्म मिल जाती हैं। लेकिन अगर अच्छे स्वाद वाली मिर्च की बात की जाये तो देशी मिर्च खाने काफी बेहतर और स्वादिष्ट होती है। इसीलिए आप गमले या बगीचे में मिर्च उगा रहे हैं तो देशी किस्म की मिर्च उगाये।


               मिर्च का बीज कहां से खरीदें
गमले में अच्छी मिर्च उगाने के लिए अच्छी किस्म के बीज होने चाहिए आप अपने बाजार से नजदीकी बीज दुकान से अपनी जरूरत के हिसाब से बीज खरीद सकते हैं या फिर मिर्च के बीज को ऑनलान भी (amazon,flipcart,ebay,nurseylive,myntra) आदि से खरीद सकते हैं बीजों(seeds)को खरीदते समय सैलर के रिव्यू अवश्य देखें। 


                  मिर्च के बीज कैसे लगाये
मिर्च को बीज से उगाना बहुत ही आसान है इसके बीज बहुत ही तेजी अंकुरित होते हैं जब भी आप मिर्च का बीज उगाना चाहें। उससे पहले बीजों को लगाने के लिए मिट्टी को तैयार कर लेना चाहिये। सब्जियो के बीज उगाने के लिये साधारण मिट्टी (Normal soil) अच्छी रहती है। मिट्टी को बनाने के 60% Garden की मिट्टी, 40% गोबर खाद या वर्मीकम्पोस्ट को मिला लें। 

 
                      बीज लगाने की विधि 
मिर्च के बीज लगाने के लिए हमें soil media को तैयार कर लें। उसके बाद उसको गमले या ग्रो बैग में भर लें। फिर उसे 1-2 दिन के लिए धूप में रख दें। जिससे कि गमले या ग्रो बैग की मिट्टी में गर्मी बन सकें। इसके बाद मिट्टी की ऊपरी परत को एक समान कर ले उसके बाद मिर्च के बीजों को छिडकाव या लाइन बनाकर बीजों को बो दें। फिर मिर्च के बीजों के ऊपर हल्की मात्रा में गोबर खाद डाल दें जिससे कि मिर्च के बीज ढक जाये। और बीज एक जगह पर स्थिर रह सकें। बीज बोने के बाद पानी देते समय ध्यान रहे कि किसी धारदार वस्तु की सहायता पानी नही दें बल्कि पानी फुवारे की सहायता से पानी दें। उसके बाद गमले को किसी ऐसी जगह पर रखें जहां पर कम धूप आती हो। गमले में नमी बनाये रखना बहुत आवश्यक है। 8-10 दिनों बीजों का अंकुरण प्रारम्भ हो जाता है। जैसे ही बीज अंकुरित हो जाये तब गमले को धीरे-धीरे धूप में रखना शुरू कर दें। इससे मिर्च के पौधे भी नही सडते हैं और पौधा भी मजबूत होता है। 20-22 दिनों बाद मिर्च के पौधे दूसरी जगह लगाने के लिए तैयार हो जाते हैं।



          मिर्च उगाने के लिये गमले का साइज
अगर आप गमले में अच्छी मिर्च उगाना चाहते हैं। तो आपको पता होना चाहिये। गमले का साइज कौन सा अच्छा रहता है। मिर्च उगाने के लिये कम से कम 10 inch या उससे बडा गमला होना चाहिये। आप ग्रो बैग,बाल्टी,टब में मिर्च उगा सकते हैं। जितना बडा साइज होगा उतनी ही अच्छी मिर्च उगा सकते हैं।
   
                 मिर्च के लिये गमले की तैयारी
गमले में मिर्च के पौधे को लगाने से पहले गमले की निचली सतह पर पानी निकलने के लिये छेद होने चाहिये अगर गमले की निचली सतह पर छेद नही हुये तो मिर्च के पौधे का विकास काफी कम होगा। गमले की निचली सतह में जो छेद होता है उससे पानी ही नही निकलता बल्कि इससे हवा का आवागमन भी होता है। जिससे पौधे का विकास बहुत तेजी से होता है।


              मिर्च के पौधे को रीपोट कैसे करें
बीज से उगाये गये मिर्च के पौधे 20-22 दिनों बाद या चार-पांच पत्तियों का पौधा हो जाये तब आप गमले में पौधे को लगा सकते हैं। जब आप पौधे को लगाये तब मिट्टी में थोडा गहरा गढ्ढा बना लें फिर उसमे पौधे को लगा दें और फिर उंगलियो की सहायता से मिट्टी को दबा दें। जिससे पौधा गिरे नही पहली बार गमले में भरपूर पानी दें जिससे कि निचली सतह तक पानी पहुंच जायें कभी भी एक पौधा नही लगाये क्योकि एक पौधे पर अच्छी नही आ सकती इसीलिए कम से कम 4-5 मिर्च के पौधे जरूर लगाये।

     गमले में मिर्च के पौधे की देखरेख कैसे करें
गमले में मिर्च के पौधे को 5-6 दिन के लिए गमले को किसी छायादार स्थान या ऐसी जगह रखे जहां पर सुबह की हल्की धूप आती हो ऐसी जगह पर रखें। 2-3 दिनों बाद पौधे की मुरझाई हुई पत्तियां सही होना शुरू हो जायेंगी। तब आप उन गमलो को खुली धूप में रख सकते हैं गमले में मिर्च के पौधे की 8-10 बाद मिट्टी की गुडाई करें जिससे की मिट्टी में घास या अन्य खरपतवार नही उग सकें। मिट्टी की गुडाई करने के बाद उसे 1-2 दिन की धूप लगने दें। उसके बाद हर गमले 100-150 ग्राम गोबर खाद या वर्मीकम्पोस्ट डालें और उसके बाद गमले पानी दे दें। इसी प्रकार एक महीने में दो बार खाद दे सकते हैं।

                      गमले के खाद की मात्रा
8-12 इंच के गमले 50-150 ग्राम गोबर खाद या वर्मीकम्पोस्ट गमले में खाद 30 दिन में दो बार डालनी है।
8-12 इंच के गमले में 100-200 ग्राम किचिन वेस्ट 20 दिन में एक बार प्रयोग करना है।
       
                              मिर्च पर फल
बीज लगाने के 35-45 दिनों बाद पौधे पर मिर्च आना प्रारम्भ हो जाती हैं। मिर्च के पौधे पर नर और मादा दोनो ही फूल आते हैं शुरू में मिर्च के पौधे पर नर फूलों की संख्या अधिक होती है। मिर्च के पौधे पर नर फूल का काम केवल निशेचन क्रिया करने का होता है। उसके बाद नर फूल सूखकर नीचे गिर जाता है इसी कारण आपको लगता है कि हमारे मिर्च के पौधे पर फूल तो आता है लेकिन वो फल बनने से पहले ही गिर जाता है।

        मिर्च के पौधे पर मिर्च ना आने कारण
अगर आपने मिर्च के बीज बेकार और घटिया क्वालिटी को लगाया है तो उन पौधों पर अच्छे फल-फूल ही नही आते हैं। इसीलिए जब भी आप मिर्च को गमले या ग्रो बैग में उगाये तो तो उच्च क्वालिटी के बीजों लगाना चाहिये। 

■ गर्मियों के समय में गमले में लगे मिर्च के पौधे को जरूरत के अनुसार पानी न मिलने पर पौधा फूल ही गिराना शुरू कर देता है। इसीलिए अगर मौसम गर्म है और पौधे पर फूल आना प्रारम्भ हो चुका है तो पौधे प्रतिदिन सिंचाई करें।

■ सर्दियों के समय में मिर्च के पौधे पर फूल आने के समय पौधे में सिंचाई करना थोडा कम कर दीजियें क्योकि सर्दियों के मौसम में मिट्टी में तो वैसे ही नमी रहती है। इसीलिए अगर आप पौधे में बार-बार सिंचाई करेंगे तो पौधा ओवर वाटरिंग से भी फूलों को गिराना प्रारम्भ कर देगा।

■ मिर्च के पौधे पर मिलीबग या अन्य कीडे लगे होने पर पौधा मिर्च के फूलों को भी गिराना शुरू कर देता है। इसकी रोकथाम के लिए आप अपने घर पर घरेलू कीटनाशक बाकर रखें और पौधे पर मिलीबग आते ही पौधे पर कीटनाशक का छिडकाव करें।

मिर्च पर अच्छी मिर्च लेने के लिये समय से पौधे में पानी देना और समय से से पौधे में निराई-गुडाई करना बहुत आवश्यक होता है। और मिर्च के पौधे को 4-5 घंटे की धूप मिलना बहुत जरूरी है।

नोट-घर पर बनाये गये कीटनाशक को आप 40-60 दिनों तक स्टोर करके रख सकते हैं।

            मिर्च के पौधे पर आने वाली बीमारियां
 मिर्च के पौधे पर वैसे तो अनेक बीमारियों का प्रकोप होता है। जैसे पत्तियों को खाने वाले कीडे यह एक झिल्ली होती है। जोकि मिर्च के पौधे की नई-नई कोमल शाखाओ पर लग जाते हैं। जैसे ही मिर्च के पौधे पर तना छेदक रोग का प्रकोप हो उसी समय गरेलू कीटनाशक का पौधे पर छिडकाव करें।
गमले में मिर्च उगाने की पूरी जानकारी गमले में मिर्च उगाने की पूरी जानकारी Reviewed by Gardenupto on फ़रवरी 11, 2021 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

thanks for your comment

Blogger द्वारा संचालित.