गुलदाउदी पर ज्यादा फूल लेने के लिए क्या करें ?




नमस्कार दोस्तो
गुलदाउदी सर्दियों के मौसम का फूलों वाला पौधा है।गुलदाउदी को गाना बहुत ही आसान है इस पर भिन्न-भिन्न रंगों के भिन्न-भिन्न आकार में तरह-तरह के फूल आते हैं उत्तर भारत में नवंबर से लेकर मार्च तक गुलदाउदी अच्छे फूल देता है। अगर आपने भी गुलदाउदी लगाया हुआ है। तो आज हम आपको बताने वाले हैं कि आप अपने गुलदाउदी के पौधों की क्या देखरेख करें जिससे उन पर अच्छे फूल आ सके। अगर आपको हमारी दी गई जानकारी अच्छी लगे तो इसे शेयर जरूर करें और अगर आप हमारे साथ कुछ शेयर करना चाहते हैं तो आप कमेंट करके हमें बता सकते हैं।






गुलदाउदी को लगाने का सही समय -
गुलदाउदी के पौधों पर अच्छे बड़े फूल लेने के लिए यह जरूरी है कि गुलदाउदी के पौधों को सही समय पर उगाया जाए उत्तर भारत में गुलदाउदी लगाने का सही समय जुलाई अगस्त का महीना होता है। इस समय आप गुलदाउदी के पौधों को कटिंग द्वारा बड़ी आसानी से ग्रो कर सकते हैं ।कटिंग से गुलदाउदी बनाते समय ज्यादा बड़ी कटिंग नहीं लगानी चाहिए। कटिंग का साइज मोटा होना अच्छा रहता है। जितनी मोटी कटिग होगी पौधा उतना ही मजबूत बनेगा। जिससे उसपर बड़े और ज्यादा फूल आएगें।

समय - जुलाई से अगस्त
तापमान - 25-35° 



कटिंग का आकार - 
कटिंग द्वारा गुलदाउदी को लगाते समय ज्यादा बड़ी कटिंग का प्रयोग नहीं करना है 2 से लेकर 3 इंच तक गुलदाउदी की कटिंग का साइज सही रहता है इससे ज्यादा बड़ा साइज होने पर कटिंग सड़ जाती है।

मिट्टी की तैयारी - 
मिट्टी - 50%
khad - 30%
sand - 20%
सभी को मिलाकर एक मिक्सर तैयार करें।

गमले का साइज - गुलदाउदी के पौधेे से अच्छे फूल लेने के लिए  बड़े साइज का गमला प्रयोग करना अच्छा रहता है। दस इंच या उससे बड़ा गमला गुलदाउदी के लिए सही है।

छोटी प्रजाति के पौधे के लिए - 6-8 inch
बड़ी फूलो की प्रजाति के लिए - 10_12 inch





soil mixer - 
गुलदाउदी का पौधा लंबे समय तक फूल देता है इसलिए इसे अधिक पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है अगर आप चाहते हैं कि आपको बार-बार अपने पौधों में खाद आदि ना देनी पड़े तो आप जब भी गमले के लिए मिट्टी तैयार करें तो उसमें भरपूर मात्रा में खाद मिलाए जिससे आगे आपको पौधों में कम खाद देनी पड़े।

नॉर्मल soil - 50%
खाद - 40%
sand - 10%

खाद कौन सी सही है -

गुलदाउदी के पौधे के लिए कोई भी जैविक खाद सबसे ज्यादा बेहतर होती है। जैसे गोबर खाद वर्मी कंपोस्ट या अच्छे तरीके से तैयार की गई कंपोस्ट खाद अगर आप अपने पौधों में सही वृद्धि विकास चाहते हैं ।तो अच्छी किस्म की जैविक खाद का प्रयोग करें जैविक खाद पौधे के विकास के लिए अच्छी खाद के रूप में जानी जाती हैं। जैविक खाद का प्रयोग करने से पौधों पर बीमारियों का कम प्रकोप होता है। इसके अलावा आपक मिट्टी भी सही रहती है। मिट्टी की जैविक संरचना खराब नहीं होती इसलिए हमेशा जैविक खाद का प्रयोग ही पौधों में करना चाहिए।
गमले में कितनी खाद दें ?

6" Pot - 50 gram सप्ताह में एक बार
8" Pot - 70 gram सप्ताह में एक बार
10" Pot - 100 gram दस दिन में एक बार
12_16" Pot - 150 gram  महीने में दो बार

रासायनिक खाद कितनी दे सकते है ?
1- DAP
2- NPK
3- UREA
4-POTASH
5- SUPER PHOSPHAT
उपरोक्त सभी खाद गुलदाउदी में दी जा सकती है। यूरिया का प्रयोग सीमित मात्रा में करना चाहिए।

DAP - महीने में 5-10 दाने एक बार 
NPK - एक लीटर पानी में दो ग्राम मिलाकर महीने में एक बार
potash - इक लीटर पानी में दो ग्राम घोलकर महीने में एक बार दे सकते है
कोई भी दो खाद से ज्यादा खाद पौधे में प्रयोग ना करें। खाद देने में अंतर जरूर रखें।





पानी और धूप - 
गुलदाउदी पर अच्छे फूल लेने के लिए पौधे को ज्यादा से ज्यादा धूप में रखें। दो दिन में एक बार पानी देना है। अगर मिट्टी ज्यादा नम हो जाए तो कुछ दिन पानी रोक दें। महीने में एक बार गमले कि गुड़ाई जरूर करें। गुलदाउदी के पौधे की फूल आने से पहले pruning करना बहुत जरूरी है। पौधे की कटिंग होने से पौधे पर ज्यादा फूल आते है।



गुलदाउदी पर ज्यादा फूल लेने के लिए क्या करें ? गुलदाउदी पर ज्यादा फूल लेने के लिए क्या करें ? Reviewed by homegardennet.com on दिसंबर 11, 2020 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

thanks for your comment

Blogger द्वारा संचालित.