How to fertilizer for chilli plant in hindi | मिर्च में खाद कब और कैसे दें

मिर्च के लिये उपयोगी खाद -
सर्दियों के मौसम में मिर्च को उगाना बहुत ही सरल होता है।आप इस मौसम में देसी,हाइब्रिड ,शिमला सभी तरह की मिर्च बड़ी आसानी से उगा सकते हैं। अगर आप चाहते हैं कि आप के मिर्च के पौधों पर बड़ी मात्रा में मिल आयें और आपको जल्दी जल्दी मिर्च खाने को मिलती रहें तो आपको मिर्च के पौधों में भरपूर खाद देना होगा। आज हम आपको बताने वाले हैं कि मिर्च के पौधे के लिये सबसे ज्यादा अच्छी रहती है?


मिर्च के लिये अच्छी खाद -
मिर्च उगाने के लिए जैविक खाद का प्रयोग करने की कोशिश करें,प्राकृतिक खाद से उगाई गई सब्जियां ज्यादा पौष्टिक एवं बीमारी रहित और हमारे लिए बहुत लाभदायक होती हैं। सब्जियों में रासायनिक खाद का प्रयोग ना करें या बहुत जरूरी होने पर बहुत कम मात्रा में रासायनिक खाद का प्रयोग करें।
गोबर खाद
वर्मी कम्पोस्ट
कम्पोस्ट खाद
किचन वेस्ट खाद
सब्जियां उगाते समय अपने यहां की पारंपरिक खाद जो कि गोबर खाद है उसका प्रयोग करना चाहिए। अगर आप बड़े शहरों से हैं जहां पर आप को गोबर खाद नहीं मिल रहा है तो वहां आप कंपोस्ट खाद या वर्मी कंपोस्ट खाद का प्रयोग कर सकते हैं। अगर आप काफी लंबे समय से बागवानी कर रहे हैं तो घर पर किचन वेस्ट यानि कि रसोई से निकलने वाले कूड़े करकट से भी अपने लिए खाद बना सकते हैं। किचन वेस्ट से बनी खाद सब्जियां उगाने के लिए काफी कारगर एवं फायदेमंद होती है।

मिर्च में गोबर खाद देने की विधि -
मिर्च को बीज से तैयार होने के 15 -20 दिन बाद गमले या मिट्टी में repot कर दिया जाता है। जहां पर 10 -15 दिन में मिर्च का पौधा नयी ग्रोथ शुरू कर देता है। मिर्च के पौधा जब 20-25 दिन का हो जाये तब मिट्टी की हल्की गुड़ाई करने के बाद पौधे को धूप लगने दें फिर 20- 50  ग्राम गोबर खाद / पौधा के हिसाब से हर पौधे में लगायें खाद लगाने के तुरन्त बाद मिर्च के पौधे में सिंचाई कर देनी चाहिये।इस तरीके से हर 20- 30 दिन बाद आप खाद देने का यही क्रम दोहरा सकते हैं ।
पहली गोबर खाद - मिर्च का पौधा 20- 25 दिन का होने पर
दूसरी गोबर खाद - मिर्च का पौधा 45 -50 दिन का होने पर



30-40 दिन बाद मिर्च पर फूल आने की शुरूआत हो जाती है दूसरी बार गोबर खाद देते समय पानी लगाने का ध्यान रखें ।फूल आने पर कम सिंचाई करें और खाद की मात्रा बढ़ा दें। जब तक पौधे पर फूल ,फल में बदल जाये तब तक मिर्च की सिंचाई ना करें। या बहुत जरूरी होने पर हल्की सिंचाई करें।
वर्मी और कम्पोस्ट खाद - यह दोनो खाद ज्यादा उर्वरक होती है इसलिये मिर्च में इनका प्रयोग 25 - 30 दिन के अन्तर से करना चाहिये। अगर आपके मिर्च के पौधे ज्यादा ही कमजोर हैं तो कम अन्तराल से भी खाद का प्रयोग फसल पर कर सकते हैं।

How to fertilizer for chilli plant in hindi | मिर्च में खाद कब और कैसे दें How to fertilizer for chilli plant in hindi | मिर्च में खाद कब और कैसे दें Reviewed by homegardennet.com on अक्तूबर 08, 2019 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

thanks for your comment

Blogger द्वारा संचालित.